Pixel code

What is Fever Meaning in Hindi

Fever Meaning बुखार का मतलब है कि जब शरीर का तापमान सामान्य से अधिक हो जाता है। इसका अर्थ है कि किसी बीमारी के कारण शरीर का तापमान मानक से अधिक हो जाता है। इसे ज्वर या बुखार के रूप में समझा जा सकता है। ये दोनों शब्द एक स्थिति को संदर्भित करते हैं जिसमें किसी बीमारी के कारण आपके शरीर का तापमान सामान्य से अधिक हो जाता है।

Fever Meaning in Both Hindi and English

  • बुखार का मतलब है कि जब शरीर का तापमान सामान्य से अधिक हो जाता है।
  • इसका अर्थ है कि किसी बीमारी के कारण शरीर का तापमान मानक से अधिक हो जाता है।
  • इसे ज्वर या बुखार के रूप में समझा जा सकता है।
  • ये दोनों शब्द एक स्थिति को संदर्भित करते हैं जिसमें किसी बीमारी के कारण आपके शरीर का तापमान सामान्य से अधिक हो जाता है।
  • A fever is a rise in body temperature that happens when the hypothalamus, which houses the body’s thermostat, resets to a temperature higher than usual.
  • Body temperature rising over normal is called a fever.
    The average body temperature is approximately 98.6°F (37°C), though it can fluctuate somewhat.
    Reasons: Commonly associated with bacterial or viral diseases such as colds, dengue, malaria, flu, etc.
    Symptoms: Chest pains, headaches, body aches, and exhaustion are sometimes associated with fever.
    Time: Usually disappears in a few days when the body gets rid of the illness.

Fever Meaning: शरीर का तापमान बढ़ जाना(Fever is an increased body temperature)

सामान्य शरीर का तापमान: 98.6°F (37°C) के आसपास होता है।

बुखार: जब शरीर का तापमान 100.4°F (38°C) या उससे अधिक होता है।

कारण: संक्रमण, सूजन, दवाएं, कैंसर, आदि।

लक्षण: शरीर का तापमान बढ़ना, ठंड लगना, पसीना आना, थकान, मांसपेशियों में दर्द, सिरदर्द, भूख न लगना।

बचाव: हाथ धोना, स्वस्थ भोजन, पर्याप्त नींद, तनाव से बचना, टीकाकरण।

उपचार: पानी पीना, आराम करना, बुखार कम करने वाली दवाएं, डॉक्टर को दिखाना।

Fever Meaning: सामान्य शरीर का तापमान(Normal body temperature)

सामान्य तापमान: सामान्य तौर पर एक स्वस्थ व्यक्ति का शरीर तापमान लगभग 98.6°F (37°C) के आसपास होता है। शरीर के कार्य: सामान्य तापमान का बना रहना शरीर के सभी कार्यों के सामान्य तौर पर सहारा प्रदान करता है। यह ऊष्मा नियंत्रण और ऊर्जा संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है। महत्वपूर्ण निर्देशक: सामान्य तापमान एक महत्वपूर्ण स्वास्थ्य निर्देशक होता है। डॉक्टर अक्सर इसे शरीर के स्वास्थ्य स्थिति का एक मापदंड मानते हैं। तापमान की परिवर्तन: स्वास्थ्य स्थिति, प्राकृतिक प्रक्रियाएं और वातावरण के आधार पर शरीर का तापमान बदल सकता है। उच्च या कम तापमान: अगर तापमान सामान्य सीमा से अधिक होता है तो यह उच्च तापमान कहलाता है, जबकि तापमान सामान्य सीमा से कम होता है तो यह कम तापमान कहलाता है। स्वास्थ्य निर्धारक: यदि तापमान लंबे समय तक बढ़ा हुआ या कम हो जाता है, तो यह स्वास्थ्य समस्याओं का संकेत हो सकता है और डॉक्टर की सलाह लेना उचित होता है। अनुरोध: किसी भी स्वस्थ और स्थिर शरीर का तापमान सामान्य बनाए रखने के लिए स्वस्थ भोजन, पर्याप्त नींद, नियमित व्यायाम, और तनाव को दूर रखना जरूरी होता है।

 

 

 

Fever Meaning: संक्रमण का लक्षण(Fever is a common symptom of an infection)

सामान्य लक्षण:

  • बुखार: यह संक्रमण का एक प्रमुख लक्षण है, जो शरीर का तापमान बढ़ा देता है।
  • थकान: संक्रमण के साथ अक्सर थकान महसूस होती है।
  • शीघ्रता: बुखार के साथ-साथ शीघ्रता का अनुभव हो सकता है।
  • दर्द या अपने शरीर में दर्द: संक्रमण के साथ अक्सर शरीर में दर्द की समस्या होती है।

विशिष्ट लक्षण:

  • श्वासन की समस्याएँ: कुछ संक्रमण श्वासन में परेशानी का कारण बन सकते हैं, जैसे कि खांसी, सांस लेने में तकलीफ, और सीने में दर्द।
  • साइनस: सिर और चेहरे के किसी भी भाग में संक्रमण के कारण साइनस की समस्या हो सकती है, जैसे कि नाक बहना, नाक बंद होना, और चेहरे में दर्द।
  • खांसी और ठंडी: कुछ संक्रमण खांसी और ठंडी के लक्षण प्रकट कर सकते हैं, जैसे कि गले में खराश, नाक बहना, और छींक आना।
  • पेट की समस्याएँ: कुछ संक्रमण पेट की समस्याओं को उत्पन्न कर सकते हैं, जैसे कि उल्टी, दस्त, और पेट में दर्द।
  • अपेट की कमी: संक्रमण के कारण भूख कम लग सकती है और अपेट की कमी हो सकती है।
  • गर्दन में सूजन: कुछ संक्रमण गर्दन में सूजन का कारण बन सकते हैं, जैसे कि लिम्फ नोड्स में सूजन।

कुछ अन्य लक्षण :

  • त्वचा पर चकत्ते
  • आंखों में लालिमा और सूजन
  • कान में दर्द
  • मूत्र में जलन
  • योनि स्राव
  • जोड़ों में दर्द

Fever Meaning: अन्य गंभीर लक्षण

  • तेज बुखार (104°F या 40°C से अधिक)
  • तीव्र सिरदर्द
  • गर्दन में अकड़न
  • भ्रम या चेतना में परिवर्तन
  • दौरे श्वास लेने में तकलीफ
  • सीने में दर्द
  • पेट में दर्द
  • खून की उल्टी या मल
  • त्वचा पर चकत्ते

Fever Meaning: कुछ दिनों में ठीक

बुखार आमतौर पर 3-4 दिनों में अपने आप ठीक हो जाता है। यदि बुखार 3 दिनों से अधिक समय तक रहता है, तो यह किसी अंतर्निहित चिकित्सा स्थिति का संकेत हो सकता है। कुछ कारक जो बुखार की अवधि को प्रभावित कर सकते हैं: संक्रमण का प्रकार: कुछ संक्रमणों में दूसरों की तुलना में अधिक समय लगता है। व्यक्ति की प्रतिरक्षा प्रणाली: एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली वाले व्यक्ति को बुखार से तेजी से उबरने में मदद मिल सकती है। उपचार: कुछ मामलों में, बुखार को कम करने के लिए दवाएं दी जा सकती हैं। यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं जो आपको बुखार से जल्दी ठीक होने में मदद कर सकते हैं: पानी और तरल पदार्थों का सेवन: बुखार होने पर शरीर में पानी की कमी हो सकती है। इसलिए, खूब पानी और तरल पदार्थों का सेवन करना महत्वपूर्ण है। आराम करना: बुखार होने पर पर्याप्त आराम करना महत्वपूर्ण है।

FAQS About Fever Meaning 

बुखार (Fever Meaning) का अर्थ क्या है?

बुखार एक आम चिकित्सा लक्षण है जो शरीर के तापमान को सामान्य से अधिक बना देता है। यह अक्सर विभिन्न संक्रामक रोगों जैसे कि जुकाम, डेंगू, मलेरिया, ठंड आदि के साथ जुड़ा होता है। बुखार कभी-कभी शीघ्रता, सिरदर्द, शारीरिक दर्द, और थकान के साथ होता है। सामान्यतः, बुखार कुछ दिनों में स्वतः ही ठीक हो जाता है जब शरीर अंदर के संक्रमण का सामना करता है।

बुखार (Fever Meaning) का क्या कारण होता है?

सूजन: शरीर में कहीं भी सूजन होने पर बुखार आ सकता है। कुछ दवाएं: कुछ दवाओं के दुष्प्रभाव के रूप में बुखार आ सकता है। कैंसर: कुछ प्रकार के कैंसर में बुखार एक आम लक्षण है। अन्य: हार्मोनल असंतुलन, रक्त के थक्के बनने, और कुछ चयापचय संबंधी विकारों के कारण भी बुखार आ सकता है।

क्या बुखार (Fever Meaning) हमेशा बीमारी का संकेत होता है?

बुखार अक्सर शारीरिक या मानसिक तनाव, या थकान का परिणाम हो सकता है, जिसे आमतौर पर व्यक्ति की शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली के रिस्पांस के रूप में देखा जाता है। कई साधारण और सामान्य रोग जैसे कि जुकाम, सामान्य सर्दी और फ्लू में बुखार का अनुभव किया जा सकता है, जो आमतौर पर कुछ दिनों में स्वतः ही ठीक हो जाता है। हालांकि, अगर बुखार लंबे समय तक बना रहता है या अन्य गंभीर लक्षणों के साथ होता है, तो यह गंभीर बीमारी के संकेत के रूप में देखा जा सकता है और इस पर मेडिकल सलाह लेनी चाहिए।

बुखार (Fever Meaning) का परीक्षण कैसे किया जाता है?

बुखार का परीक्षण थर्मामीटर द्वारा किया जाता है, जिससे शरीर का तापमान मापा जा सकता है।

बुखार (Fever Meaning) कब चिकित्सा सलाह लेनी चाहिए?

यदि बुखार लंबे समय तक बना रहता है या गंभीर लक्षणों के साथ हो, तो डॉक्टर की सलाह लेना उचित होता है।

बुखार (Fever Meaning) का उपचार कैसे किया जाता है?

बुखार का उपचार अक्सर ठंडा कंप्रेस और बुखार ग्रहणकारी दवाओं के साथ किया जाता है, लेकिन इसका अधिक बेहतरी के लिए डॉक्टर से परामर्श

Most Popular Links

Career Tests

21st Century Test For Working Professionals
Graduates & Post Graduates
21st Century Test For 12th
21st Century Skills & Learning Test Grade 12
21st Century Test For 11th
21st Century Skills & Learning Test Grade 11
21st Century Skills & Learning Test Grade 10
Career Test (1)
PSYCHOMETRIC IDEAL CAREER TEST™
Skill Based Career Test 1
PSYCHOMETRIC SKILL BASED TEST FOR 9TH
Engineering Branch Selector
PSYCHOMETRIC ENGINEERING SELECTOR
21st Century Test For 10th
Professional Educator Index
PSYCHOMETRIC EDUCATOR PROFESSIONAL SKILLS
Stream Selector Test
PSYCHOMETRIC STREAM SELECTOR™
Commerce Career Test
PSYCHOMETRIC COMMERCE CAREER SELECTOR
Humanities Career Test
PSYCHOMETRIC HUMANITIES CAREER SELECTOR
Professional Skill Test
PSYCHOMETRIC PROFESSIONAL SKILL INDEX

More from Meaning

Most Recent Posts

Top Private Universities

Most Popular Universities

Trending Colleges

Career Counselling Services

Popular Exams

Most Popular Article's